ग्लोबल IPO फंड्स में भारत की 3 प्रतिशत हिस्सेदारी, जनवरी-सितंबर में कंपनियों ने 9.7 अरब डॉलर जुटाए

पब्लिक ऑफर्स के जरिए फंड जुटाने के लिहाज से अमेरिका टॉप पर है। इसके बाद चीन और हांगकांग हैं

इस वर्ष के पहले नौ महीनों में 72 कंपनियों ने इनिशियल पब्लिक ऑफर (IPO) के जरिए लगभग 9.7 अरब डॉलर जुटाए हैं। इस अवधि में दुनिया भर में IPO से हासिल किए गए फंड्स के लिहाज से भारत की हिस्सेदारी लगभग 3 प्रतिशत की है। इस दौरान दुनिया भर में पब्लिक ऑफर्स के जरिए 330.66 अरब डॉलर जुटाए गए।

IPO की संख्या के लिहाज से भारत की हिस्सेदारी 4.4 प्रतिशत की है।

कंसल्टेंसी फर्म  EY की रिपोर्ट के अनुसार, जनवरी से सितंबर के दौरान दुनिया भर में IPO की संख्या 1,635 थी।

FPI का इनवेस्टमेंट बढ़ा, इक्विटीज में इस महीने 1,530 करोड़ रुपये लगाए

रिपोर्ट से पता चलता है कि नैस्डैक और NYSE स्टॉक एक्सचेंजों पर IPO से जुटाए गए फंड से अमेरिका इस लिस्ट में टॉप पर है। इसके बाद चीन और हांगकांग हैं।

EY ने बताया है कि दुनिया भर में IPO से हासिल किए गए फंड्स के अनुसार भारत का 11वां स्थान है। विदेशी कंपनियों के लिए IPO लॉन्च करने के नैस्डैक और  NYSE पसंदीदा स्टॉक एक्सचेंज हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि एशिया पैसेफिक में वोलैटिलिटी अधिक होने के बावजूद पब्लिक ऑफर लाने वाली 750 कंपनियां थी। यह संख्या पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में लगभग 35 प्रतिशत अधिक है। इन कंपनियों ने लगभग 124 अरब डॉलर जुटाए और यह पिछले वर्ष से 44 प्रतिशत की बढ़ोतरी है।

एशिया पैसेफिक में टेक्नोलॉजी सबसे आकर्षक सेक्टर बना हुआ है। इससे जुड़ी 154 कंपनियों के IPO आए और इनसे लगभग 34.3 अरब डॉलर हासिल किए गए।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

 

यह भी पढ़े:  Latent View Analytics IPO: इश्यू की मजबूत लिस्टिंग के संकेत दे रहा GMP, जानें क्या है मार्केट ऑब्जर्वर्स की उम्मीद
close