पेट अंदर करने और जल्दी पतला होने की पतंजलि आयुर्वेदिक दवा

पतला होने की पतंजलि आयुर्वेदिक दवा

पतला होने की पतंजलि आयुर्वेदिक दवा हिंदी में: (Patanjali Medohar Vati) वजन कम करने और पेट की चर्बी घटाने के लिए अधिकतर लोग एक्सरसाइज, योग, डाइटिंग और घरेलू नुस्खे प्रयोग करते है।

एक स्वस्थ शरीर को बनाए रखना इतना आसान नहीं है और इतना कठिन भी नहीं है। हमेशा स्वस्थ रहने की आवश्यकता है क्योंकि अस्वस्थ शरीर पर कई बीमारियों का हमला होगा।

पेट अंदर करने के उपाय अपनाकर सेहतमंद तरीके से मोटापा कम किया जा सकता है पर कुछ बहुत से लोगों की दिनचर्या काफी व्यस्त होती है जिस कारण वे नियमित रूप से इन उपायों को नहीं कर पाते और ऐसे में वे जल्दी पतले होने की दवाई या कोई आसान तरीका जानना चाहते है। इस लेख में हम बाबा रामदेव वेट लॉस मेडिसिन दिव्य मेदोहर वटी के बारे में जानेंगे। ये पतला होने की आयुर्वेदिक दवा है जो पतंजलि स्टोर से ले सकते है। 

आयुर्वेदिक औषधियों के अधिकांश घटक जड़ी-बूटियों, पौधों, फूलों एवं फलों आदि से प्राप्त की जाती हैं। अतः यह चिकित्सा प्रकृति के निकट है। व्यावहारिक रूप से आयुर्वेदिक औषधियों के कोई दुष्प्रभाव (साइड-इफेक्ट) देखने को नहीं मिलते।

आइये जाने patanjali baba ramdev weight loss ayurvedic medicine tips in hindi.

Patanjali Medohar Vati, 100 Tab (1×100) का रेट अमेज़न पे चेक करे

  • जाने पेट अंदर करने के लिए योग

पतला होने की पतंजलि आयुर्वेदिक दवा : मोटापा कम करने की दवा

Baba Ramdev Weight Loss Medicine in Hindi

  • जब हम भोजन में आवश्यकता से अधिक कैलोरी लेते है तो ये शरीर में वसा के रूप में जमा होने लगती है जिस वजह से धीरे धीरे वजन बढ़ने लगता है।
  • दिव्य मेदोहर वटी पतंजलि की आयुर्वेदिक दवा है जो पेट अंदर करने के अलावा पाचन शक्ति को भी दुरुस्त करने में कारगर है। ये मेडिसिन आप अपने आसपास किसी बाबा रामदेव पतंजलि के स्टोर से ले सकते है। दिव्य मेदोहर वटी पुरे शरीर का वेट लॉस करने की बजाय पेट की चर्बी कम करने में ज्यादा असरदार दवाई है।
  • त्रिफला और गुग्गुल (गुग्गुल) इस दवा के प्रमुख सामग्री में से एक है। त्रिफला मोटापा कम करने की आयुर्वेदिक दवा है जो वसा पचाने की प्रक्रिया में सुधार लाती है।
  • गुग्गल भी त्रिफला की तरह पेट की चर्बी घटाने और वजन कम करने में मदद करती है। दिव्य मेदोहर वटी में कुछ और भी औषधियां मौजूद है जो शरीर में वसा जमा नहीं होने देती और साथ ही फैट लॉस की प्रक्रिया को दुरुस्त करने में मदद करते है।
  • जाने वेट लॉस टिप्स इन हिंदी

1. पतंजलि दिव्य मेदोहर वटी के फायदे

  • ये दवा हार्मोन्स को संतुलन में रखने में मदद करती है।
  • पेट कम के अलावा ये आयुर्वेदिक दवा भूख भी नियंत्रित करती है।
  • ब्लड प्रेशर और हाई कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मदद मिलती है।
  • मेदोहर वटी एक हर्बल मेडिसिन है जिससे वजन कम करने के अलावा ताकत भी मिलती है।
  • गर्भवती महिला की डिलीवरी के बाद अक्सर वजन बढ़ जाता है और ऐसे में ये वजन कम करने की दवाई काफी सहायक हो सकती है।

2. दिव्य मेदोहर वटी से पेट अंदर कैसे करे

  • इस दवा की खुराक प्रयोग करने वाले के वजन और उसकी उम्र के अनुसार दी जाती है। बच्चों के लिए एक से दो गोली, नौजवानों के लिए दो से तीन गोलियां और वृद्ध लोग एक से दो टेबलेट दिन में दो बार ले सकते है। पतले होने के लिए दिन में तीन बार दो से तीन गोली ले सकते है।
  • जल्दी पेट अंदर करने के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह ले कर ही इस दवा का सेवन शुरू करें। आप की उम्र और शारीरिक श्रम की जानकारी ले कर वो आपको सही से बताएंगे कि आपको वटी टैबलेट की कितनी गोली खानी चाहिए।

3. पतला होने की ये आयुर्वेदिक दवा कब खाएं

  • पेट कम करने के लिए आप इस दवा को भोजन के बाद या फिर भोजन से पहले कभी भी ले सकते है। अगर खाना खाने से पहले दवा ले तो कम से कम 1/2 घंटा पहले और अगर खाना खाने के बाद लेना चाहे तो 1 घंटा बाद ही दवा ले। इस वेट लॉस पतंजलि मेडिसिन को गर्म पानी से लेने पर अच्छे परिणाम मिलते है।
  • भोजन से पहले कुछ लोगो को ये दवा लेने पर पेट से संबंधित कुछ परेशानी आने लगती है। अगर आपको भी कोई परेशानी आये तो भोजन करने के बाद ही इस दवा का सेवन करें।
  • गर्भवती महिलाओं और पांच साल से छोटे बच्चों को इस दवा के सेवन से दूर रहना चाहिए|
  • जाने जल्दी पेट की चर्बी कम कैसे करे

बाबा रामदेव वेट लॉस मेडिसिन इन हिंदी

दिव्य मेदोहर वटी के अलावा कुछ और पतंजलि दवाइयां भी है जो पेट अंदर करने में मददगार है। आइए जाने बाबा रामदेव मोटापा कम करने की दवा।

  • आंवला जूस
  • एलोवेरा जूस
  • त्रिफला गुग्गुल
  • दिव्य गोधन अर्क
  • दिव्या पेय हर्बल टी

पेट अंदर करने के उपाय बाबा रामदेव टिप्स

  1. एक्सरसाइज और योग से वजन घटाने में काफी मदद मिलती है और इसके इलावा अगर आप हर रोज आधे से एक घंटा नार्मल स्पीड से थोड़ा तेज चले तो एक महीने में तीन से चार किलो वजन सिर्फ चलने से ही कम हो सकता है। इसलिए सुबह या शाम की सैर के लिए समय जरूर निकाले।
  2. पेट की चर्बी कम करने के लिए हर रोज कपालभाति प्राणायाम करने से भी फायदा मिलता है।
  3. फ्रिज का ठंडा पानी पीने की बजाय गुनगुना पानी पीने की आदत बनाये और इसके अलावा ज्यादा मीठा खाने से बचें और हेल्दी डाइट ले।

इस लेख में बताई गई पतला होने के लिए दिव्य मेदोहर वटी एक आयुर्वेदिक दवा है, जिससे नुकसान ना के बराबर है पर फिर भी आपको इस दवा के उपयोग से अगर कोई परेशानी हो या फिर आप किसी रोग से ग्रसित है और ये दवा लेना चाहते है तो पहले किसी आयुर्वेद चिकित्सक की सलाह अवश्य ले।

  • पतंजलि वजन कम करने की दवा
  • दादी माँ के घरेलु नुस्खे
  • बाबा रामदेव आयुर्वेदिक उपचार

यह भी पढ़े:  चेहरे से झाइयां हटाने के लिए 10 घरेलू नुस्खे
close