फेडरल बैंक के बोर्ड ने FedFina के आईपीओ को दी मंजूरी

फेडफिना एक नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनी (NBFC) है

फेडरल बैंक (Federal Bank) के बोर्ड ने मंगलवार को कहा कि उसने स्टॉक एक्सचेंज नोटिफिकेशन के अनुसार अपनी सहायक कंपनी फेडबैंक फाइनेंशियल सर्विसेज (Fedbank Financial Services (FedFina) की इनीशियल पब्लिक ऑफरिंग (IPO) की प्रक्रिया को मंजूरी दे दी है। फेडफिना केरल स्थित बैंक द्वारा स्थापित रिटेल कारोबार पर फोकस करने वाली गैर-बैंकिंग फाइनेंस कंपनी (non-banking finance company) है। मिंट ने इस बारे में खबर छापी है।

आईपीओ में मार्केट कंडीशन और भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (Securities and Exchange Board of India (SEBI) से अनुमोदन के अधीन एक फ्रेश इश्यू और ऑफर फॉर सेल शामिल होगा।

बैंक ने अपनी फाइलिंग में कहा कि फेडफिना द्वारा प्रस्तावित आईपीओ के संबंध में आईपीओ का साइज, ऑफर फॉर सेल का हिस्सा, कीमत और अन्य विवरण निर्धारित समय में तय किए जाएंगे। आईपीओ प्रक्रिया के बाद भी फेडफिना बैंक की सहायक कंपनी बनी रहेगी।

स्टार हेल्थ ने शुरू की व्हाट्सऐप सर्विसेस, नई पॉलिसी से लेकर क्लेम करने की भी मिलेगी सुविधा

फेडफिना ने 2010 में अपना नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनी का लाइसेंस प्राप्त किया था और इस समय इसकी देश भर में 435 से अधिक शाखाएं हैं। ये शाखाएं गोल्ड लोन, होम लोन, संपत्ति पर लोन (LAP) और बिजनेस लोन देती हैं।

इसके बाद 2018 में घरेलू निजी इक्विटी फंड ट्रू नॉर्थ (True North) ने फेडफिना में लगभग 400 करोड़ रुपये में 26% हिस्सेदारी खरीदी थी।

कंपनी की वेबसाइट के अनुसार फेडफिना का एसेट अंडर मैनेजमेंट मार्च के अंत तक 4,863 करोड़ रुपये था जबकि लोन बुक का 96% हिस्सा रिटेल लोन का था।

कंपनी ने वित्तीय वर्ष 2021 के अंत में कुल नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स और नेट नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स क्रमशः 1.04% और 0.71% दर्ज की थी।

 

 

 

यह भी पढ़े:  Gold Price Latest: सोना-चांदी आज फिर हुआ महंगा, जानें 24 कैरेट गोल्ड का रेट
close