भगवान परशुराम की जयंती : आज अवश्य करें परशुराम स्तवन का पाठ

Lord Parashurama
 

भगवान परशुराम की सेवा-साधना करने वाले भक्त को उनका आशीर्वाद अवश्य ही मिलता है। परशुराम जयंती के दिन उनका यह स्तवन का पाठ अवश्य करना चाहिए। आइए पढ़ें…
।।परशुराम स्तवन।।
जय परशुराम ललाम करूणाधाम दुखहर सुखकरं।
जय रेणुका नंदन सहस्त्रार्जुन निकंदन भृगुवरं॥
जय परशुराम…
जमदग्नि सुत बल बुद्घियुक्त, गुण ज्ञान शील सुधाकरं।
भृगुवंश चंदन,जगत वंदन, शौर्य तेज दिवाकरं॥
शोभित जटा, अद्भुत छटा, गल सूत्र माला सुंदरम्‌ ।
शिव परशु कर, भुज चाप शर, मद मोह माया तमहरं॥
जय परशुराम…

क्षत्रिय कुलान्तक, मातृजीवक मातृहा पितुवचधरं।
जय जगतकर्ता जगतभर्ता जगत हर जगदीश्वरं॥
जय क्रोधवीर, अधीर, जय रणधीर अरिबल मद हरं।
जय धर्म रक्षक, दुष्टघातक साधु संत अभयंकरं॥
जय परशुराम…
नित सत्यचित आनंद-कंद मुकुंद संतत शुभकरं।
जय निर्विकार अपार गुण आगार महिमा विस्तरं॥
अज अंतहीन प्रवीन आरत दीन हितकारी परं।
जय मोक्ष दाता, वर प्रदाता, सर्व विधि मंगलकरं॥
जय परशुराम…।

ALSO READ:भगवान परशुराम के जीवन से जुड़ें पौराणिक किस्से, यहां पढ़ें

ALSO READ:
Parashurama jayanti 2021: परशुराम जी के बारे में 10 अनसुने राज

यह भी पढ़े:  shukravar को इस आरती से प्रसन्न होंगी देवी संतोषी माता, पढ़ें aarti