ये हालात Yeh Haalath Lyrics in Hindi – Jubin Nautiyal

Yeh Haalath Lyrics in Hindi

Yeh Haalath Lyrics in Hindi, sung by Jubin Nautiyal and Zara Khan. This song is written by Niranjan Iyengar and composed by Ashutosh Phatak. Starring Jubin Nautiyal.

Yeh Haalath song Details

Song Title Yeh Haalath
Movie Mumbai Diaries
Singer Jubin Nautiyal, Zara Khan
Lyrics Niranjan Iyengar
Music Ashutosh Phatak
Music Label Sony Music India

Yeh Haalath Lyrics in Hindi


थमती चलती ये जुम्बिशें
दिखी छुपी ये रंजीशें
गिरता लगे है आसमां
चुभता काटों सा ये जहाँ

अंधेरे में ही उजाला खिले
जरा सा सही
सावलों में ही इरादा मिले
और राहें नई

ये हालात हैं ये जज्बात हैं
क्यूं दिल में भरे सवालात हैं
ये हालात हैं ये जज्बात हैं
क्या सर से उठा रब्ब का हाथ है

हर पल बदले क्यूं करवटें
किस्मत की भीगी सिलवाटें
ये लम्हा लगता है वीरान
क्या मिट पायेगा ये निशान

अंधेरे में ही उजाला खिले
जरा सा सही
सावलों में ही इरादा मिले
और राहें नई

हो हो हो हो…

ये जज्बात ही तो सौगात है
ये सीखे अगर तो क्या बात है
ये जज्बात ही तो सौगात है
ये सीखे अगर तो क्या बात है

ये हालात हैं ये जज्बात हैं
क्यूं दिल में भरे सवालात हैं
ये हालात हैं ये जज्बात हैं
क्या सर से उठा रब्ब का हाथ है

ये जज्बात ही तो सौगात है
ये सीखे अगर तो क्या बात है
ये जज्बात ही तो सौगात है
ये सीखे अगर तो क्या बात है

More Songs by Jubin Nautiyal:
आँख उठी मोहब्बत ने अंगडाई ली Lut Gaye
बेवफ़ा तेरा मासूम चेहरा Bewafa Tera Masoom Chehra
चिट्ठी Chitthi
दिल चाहते हो Dil Chahte Ho
मेरी आशिकी Meri Aashiqui
तुझे भूलना तो चाहा Tujhe Bhoolna Toh Chaaha
आतिशबाज़ी Aatishbaazi
मेरी तुम हो Meri Tum Ho
मेरी माँ Meri Maa
बीमार दिल Bimar Dil

यह भी पढ़े:  ऐ मेरे वतन के लोगों Aye Mere Watan Ke Logo Lyrics in Hindi

Music Video of Yeh Haalath:

Yeh Haalath Lyrics (English)

Mujhse takra gaye
Thamti chalti yeh zumbishein
Dikhti chhupti yeh ranjishein
Girta lage hai aasmaan
Chubhta kaaton sa yeh jahaan

Andhere mein hi ujala khile
Zara sa sahi
Sawalon mein hi iraada mile
Aur raahein nayi

Yeh haalaath hai yeh jazbaat hai
Kyun dil mein bhare sawalaat hai
Yeh haalaath hai yeh jazbaat hai
Kya sar se utha rabb ka haath hai

Har pal badle kyun karwatein
Kismat ki bheegi silwatein
Yeh lamha lagta hai veeran
Kya mit payega yeh nishaan

Andhere mein hi ujala khile
Zara sa sahi
Sawalon mein hi iraada mile
Aur raahein nayi

Ho ho ho ho…

Yeh jazbaat hi toh saugaat hai
Yeh seekhe agar toh kya baat hai
Yeh jazbaat hi toh saugaat hai
Yeh seekhe agar toh kya baat hai

Yeh haalaath hai yeh jazbaat hai
Kyun dil mein bhare sawalaat hai
Yeh haalaath hai yeh jazbaat hai
Kya sar se utha rabb ka haath hai

Yeh jazbaat hi toh saugaat hai
Yeh seekhe agar toh kya baat hai
Yeh jazbaat hi toh saugaat hai
Yeh seekhe agar toh kya baat hai