Aditya Birla AMC IPO: इश्यू आज खुला, GMP लगातार गिर रहा है, जानिए निवेश करना ठीक है या नहीं!

Aditya Birla AMC IPO: कंपनी के इश्यू का प्राइस बैंड 695-712 रुपए है

Aditya Birla AMC IPO: आदित्य बिड़ला सन लाइफ AMC का 2768 करोड़ रुपए का इश्यू आज यानी 29 सितंबर को खुला है। यह IPO 1 अक्टूबर को बंद होगा। कंपनी के इश्यू का प्राइस बैंड 695-712 रुपए है। इश्यू खुलने से पहले  Aditya Birla Sun Life AMC के अनलिस्टेड शेयरों का GMP (ग्रे मार्केट प्रीमियम) लगातार गिर रहा है। कंपनी का GMP अभी 50 रुपए पर चल रहा है। इस हिसाब से देखें तो इसके शेयर 762 (712+50) रुपए पर ट्रेड कर रहा है। 27 सितंबर को  Aditya Birla Sun Life AMC का GMP 70 रुपए था जो अब घटकर 50 रुपए पर आ गया है।

क्या निवेश करना ठीक है?

ज्यादातर मार्केट एक्सपर्ट्स इसमें निवेश की सलाह दे रहे हैं। इश्यू पूरी तरह ऑफर फॉर सेल (OFS) है जिसमें इसके दो प्रमोटर्स अपनी हिस्सेदारी बेच रहे हैं। कंपनी के प्रमोटर आदित्य बिड़ाल कैपिटल और सन लाइफ (इंडिया) AMC इनवेस्टमेंट्स अपनी हिस्सेदारी कम कर रहे हैं।

ABSL AMC IPO: एंकर निवेशकों ने ऊपरी प्राइस बैंड पर खरीदे 800 करोड़ के शेयर

कंपनी के पिछले 12 महीनों का एडजस्टेड EPS देखें तो इश्यू के बाद यह 20.27 रुपए है। कंपनी 35.13 P/E पर लिस्ट होने जा रही है। इस हिसाब से इसका मार्केट कैप 20,505 करोड़ रुपए होगा। इसकी प्रतिद्वंदी कंपनियों में HDFC AMC का P/E 50 और निप्पॉन लाइफ का P/E 39 है।

Marwadi Shares and Finance के सौरभ जोशी ने कहा, “हम इस IPO को सब्सक्राइब करने की सलाह दे रहे हैं। कंपनी देश की सबसे बड़ी नॉन-बैंक एफिलिएडेट एसेट मैनेजर है। इसका प्रोडक्ट डायवर्सिफाई है और इसकी मौजूदगी देश भर में है। इसके साथ ही कंपनी का इश्यू प्रतिद्वंदी कंपनियों के मुकाबले सस्ता है।”

मिंट के मुताबिक, Aditya Birla Sun Life AMC के फंडामेंटल्स के बारे में UnlistedArena.com के फाउंडर अभय दोषी ने कहा, “आदित्य बिड़ला ग्रुप की म्यूचुअल फंड कंपनी QAAUM (तिमाही एवरेज एसेट अंडर मैनेजमेंट) के लिहाज से देश की 4 म्यूचुअल फंड कंपनियों में से एक है। 30 जून 2021 तक इसने 2936.42 अरब रुपए का एसेट मैनेज किया था।” दोषी ने कहा कि निवेशकों में वित्तीय जागरुकता बढ़ने के कारण AUM इंडस्ट्री की ग्रोथ बढ़ी है।

Aditya Birla Sun Life AMC का फोकस अभी तक डेट फंड पर रहा है जिसका मार्जिन इक्विटी स्कीम के मुकाबले कम है। लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि कंपनी अपना फोकस ज्यादा मार्जिन वाले प्रोडक्ट्स पर बढ़ा रही है।

IPO से पहले LIC करेगी चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर की नियुक्ति

दोषी ने आगे कहा, 712 रुपए के अपर प्राइस बैंड के मुताबिक, इसकी प्राइसिंग प्रतिद्वंदी कंपनियों के जैसा ही है। फिस्कल ईयर 2021 के मुताबिक कंपनी का P/E 39 है, जिसकी वजह से शॉर्ट टर्म निवेशकों के लिए इसमें मौका कम है। लॉन्ग टर्म के लिहाज से इसमें निवेश किया जा सकता है। लेकिन इस कंपनी के कई विकल्प बाजार में मौजूद हैं।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

यह भी पढ़े:  Raymond बोर्ड ने सहायक कंपनी जेके फाइल्स एंड इंजीनियरिंग के IPO को दी मंजूरी
close