AGS Transact IPO: पहले दिन अभी तक 66% सब्सक्राइब हुआ इश्यू, रिटेल निवेशकों का हिस्सा 92% भरा

AGS ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज के आईपीओ के लिए 21 जनवरी, 2022 तक बोली लगाई जा सकती है

AGS Transact Technologies IPO: AGS ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज का इनीशियल पब्लिक ऑफर (IPO) आज से बोली लगाने के लिए खुल चुका है। पहले दिन दोपहर 1 बजे तक यह आईपीओ 66 फीसदी सब्सक्राइब हो चुका था। AGS ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज के आईपीओ के लिए 21 जनवरी, 2022 तक बोली लगाई जा सकती है।

रिटेल निवेशकों ने अपने हिस्से के आरक्षित शेयरों का 92 फीसदी सब्सक्राइब कर लिया है, जबकि क्वालिफाइड-इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) ने अभी तक अपनी बोली नहीं लगाई है। वहीं नॉन-इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (NII) ने अपने लिए कुल आरक्षित 61,44,578 शेयरों के मुकाबले 58.04 लाख शेयरों या 94 फीसदी के लिए बोली लगाई है।

बता दें कि यह साल 2022 का पहला आईपीओ है। कंपनी की योजना इस आईपीओ से 680 करोड़ रुपये जुटाने का है। इसमें से उसने 204 करोड़ रुपये एंकर निवेशकों से पहले ही 18 जनवरी को आयोजित एक एंकर राउंड में जुटा लिए है।

AGS ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज के लिए कंपनी ने 166 से 175 रुपये का प्राइस बैंड तय किया है। यह आईपीओ पूरी तरह से ऑफर-फॉर-सेल (OFS) है, जिससे तहत कंपनी के प्रमोटर और शेयरहोल्डर्स अपनी हिस्सेदारी बेचेंगे। इसका मतलब है कि इस आईपीओ से मिलने वाली रकम कंपनी के खाते में नहीं जाएगी, बल्कि यह प्रमोटर और शेयरहोल्डरों के पास जाएगी।

L&T Tech के कमजोर Q3 नतीजों ने बाजार को किया निराश, 7% टूटा स्टॉक

क्या है एक्सपर्ट की राय

Emkay Research ने इस आईपीओ को ‘सब्सक्राइब’ करने की सलाह दी है। ब्रोकरेज ने कहा, “175 रुपये के अपर प्राइस बैंड पर, “हमारा मानना ​​है कि AGS लॉन्ग पीरियड के नजरिए से नकद-कम-डिजिटल गेम में निवेश करने का मौका देता है। 175 रुपए के अपर प्राइस बैंड पर, स्टॉक की वैल्यू CMS इंफो सिस्टम्स जैसे दूसरे इश्यू जैसी ही है।”

ग्रे मार्केट प्रीमियम

मार्केट ऑब्जर्वर के अनुसार, AGS Transact Tech के शेयर आज ग्रे मार्केट में 10 रुपए के प्रीमियम (GMP) पर हैं। कंपनी के शेयर 1 फरवरी, 2022 को स्टॉक एक्सचेंज BSE और NSE पर लिस्टिड होने की उम्मीद है।

क्या करती है कंपनी?

AGS ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज की स्थापना दिसंबर 2022 में हुई थी। यह बैंकों और कॉरपोरेट्स को एटीएम और कैश रिसाइकलर मशीन (CRM), आउटसोर्सिंग कैश मैनेजमेंट, डिजिटल पेमेंट सॉल्यूशन, ट्रांजैक्शन प्रोसेसिंग सर्विसेस और मोबाइल वॉलेट जैसी सेवाओं के लिए कस्टमाइज्ड प्रोडक्ट और सेवाएं उपलब्ध कराती है। कंपनी के प्रमोटर रवि बी गोयल और Vineha Enterprises है। कंपनी में दोनों की संयुक्त हिस्सेदारी 97.61 फीसदी है जबकि 1.51 फीसदी हिस्सेदारी AGSTTL Employees Welfare Trust के पास है।

31 मार्च 2021 तक के आंकड़ों के आधार पर, यह ATM से जुड़ी सेवाओं से होने वाली आमदनी के आधार पर देश की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है। 31 अगस्त 2021 तक के एक आंकड़े के मुताबिक, इसने 2,21,066 पेमेंट टर्मिनल लगाए हैं और यह पेट्रोल पंपो पर सबसे अधिक POS टर्मिलन लगाने वाली कंपनी है। इसके बैंकिग ग्राहकों में ICICI बैंक, HDFC बैंक और एक्सिस बैंक सहित करीब 50 बैंक शामिल हैं।

यह भी पढ़े:  Anand Rathi Wealth के IPO की कल होगी लिस्टिंग, जान लें ग्रे मार्केट प्रीमियम सहित दूसरी जरूरी बातें
close