Anand Rathi Wealth के IPO की कल होगी लिस्टिंग, जान लें ग्रे मार्केट प्रीमियम सहित दूसरी जरूरी बातें

लिस्टिंग से एक दिन पहले ग्रे मार्केट में 50 रुपये के प्रीमियम के साथ शेयर में हो रहा कारोबार, इश्यू प्राइस 530-550 रुपये प्रति शेयर है

Anand Rathi Wealth IPO : भारत की एक लीडिंग नॉन बैंक वैल्थ सॉल्यूशंस कंपनी आनंद राठी वैल्थ 14 दिसंबर को स्टॉक एक्सचेंजेस में आगाज के लिए तैयार है। इनवेस्टर्स की तरफ से इसके आईपीओ के लिए लगभग 10 गुना सब्सक्रिप्शन मिले थे। आईपीओ वाच के मुताबिक, लिस्टिंग से एक दिन पर ग्रे मार्केट (grey market) में कंपनी के शेयर 50 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहे हैं, जो 530-550 रुपये प्रति शेयर के इश्यू प्राइस पर 10 फीसदी प्रीमियम के बराबर है।

आईपीओ को मिला लगभग 10 गुना सब्सक्रिप्शन

यह इश्यू सब्सक्रिप्शन के लिए 2-6 दिसंबर के दौरान खुला था और इसे सभी कैटेगरी के इनवेस्टर्स की तरफ से अच्छा रिस्पांस मिला था। 84.75 लाख इक्विटी शेयरों की पेशकश की तुलना में 8.29 करोड़ इक्विटी शेयरों के लिए बिड हासिल हुई थीं। क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (क्यूआईबी) के लिए रिजर्व पोर्शन 2.5 गुना सब्सक्राइब  हुआ और नॉन इंस्टीट्शनल इनवेस्टर्स की तरफ से 25.42 गुना सब्सक्रिप्शन मिला। रिटेल इनवेस्टर्स की तरफ से 7.76 गुना और कर्मचारियों की तरफ से रिजर्व पोर्शन के लिए 1.32 गुना सब्सक्रिप्शन मिला।

शानदार आगाज के बाद Tega Industries में अब क्या करें, खरीदें-बेचें या बने रहें, जानें मार्केट एक्सर्ट्स की राय

10 फीसदी तक मजबूती के साथ हो सकती है लिस्टिंग

एक्सिस कैपिटल, कोटक सिक्योरिटीज और निर्मल बंग ने इश्यू के लिए न्यूट्रल रेटिंग दी, जबकि आईसीआईसीआई डायरेक्ट, एमके ग्लोबल और मारवाड़ी शेयर्स ने ‘सब्सक्राइब’ के लिए रिकमंड किया था।

ग्रीन पोर्टफोलियो के फाउंडर दिव्यम शर्मा ने कहा, “आनंद राठी वैल्थ फ्लैट से 10 फीसदी तक की मजबूती के साथ लिस्ट हो सकता है। शॉर्ट टर्म इनवेस्टर्स इन स्तरों पर बिकवाली पर विचार कर सकते हैं, वहीं लॉन्ग टर्म इनवेस्टर्स शेयर को होल्ड कर सकते हैं, क्योंकि भरोसेमंद बिजनेस के कारण भविष्य में ग्रोथ की खासी संभावनाएं हैं।”

एमके ग्लोबल आनंद राठी पर पॉजिटिव है। उसके मुताबिक, कंपनी का जोर सेवाओं से वंचित और कीमतों के लिहाज से कम संवेदनशील एचएनआई सेगमेंट पर है, वह लक्ष्य केंद्रित रणनीति के आधार पर ग्राहकों को सरल, समग्र और बेहतर सॉल्यूशन उपलब्ध कराने की सक्षम है, उसकी नॉन कन्वर्टिबल मार्केट लिंक्ड डिबेंचर्स में मौजूदगी है और उसका जोर वैल्यू एडेड सर्विसेज पर है।

29,472 करोड़ रुपये की है एयूएम

कंपनी 31 अगस्त तक 29,472 करोड़ रुपये के कुल एसेट अंडर मैनेजमेंट के साथ अपनी प्राइवेट वैल्थ (पीडब्ल्यू) इकाई के माध्यम से मुख्य रूप से वैल्थ मैनेजमेंट में सक्रिय है। पीडब्ल्यू इकाई के अलावा उसके दो नए टेक्नोलॉजी आधारित वर्टिकल्स- डिजिटल वैल्थ और ओम्नी फाइनेंशियल एडवाइजर्स भी हैं।

 

यह भी पढ़े:  HP Adhesives IPO 15 दिसंबर को खुलेगा, ऑफर के बारे में जान लीजिए 10 बातें
close