CMS Info Systems का IPO ग्रे मार्केट में 16% प्रीमियम पर हो रहा ट्रेड, जान लें इससे जुड़ी हर डिटेल

पहले दिन इश्यू 40 फीसदी हुआ सब्सक्राइब, 3.75 करोड़ शेयरों के ऑफर की तुलना में 1.48 करोड़ शेयरों के लिए मिलीं बिड

CMS Info Systems : आईपीओ वाच के डाटा के मुताबिक, सीएमएस इन्फोसिस्टम्स का आईपीओ ग्रे मार्केट (grey market) में 35 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है, जो 205-216 रुपये प्रति शेयर के इश्यू प्राइस पर 16 फीसदी प्रीमियम के बराबर है। सीएमएस इन्फोसिस्टम्स का 1,100 करोड़ रुपये का आईपीओ 21 दिसंबर को लॉन्च हुआ था।

सीएमएस इन्फो सिस्टम्स 31 मार्च, 2021 तक एटीएम प्वाइंट्स की संख्या के आधार पर देश की सबसे बड़ी और दुनिया बड़ी कैश मैनेजमेंट कंपनियों में से एक है।

कल बंद हो जाएगी बिडिंग

23 दिसंबर को बंद होने जा रहा इसका पब्लिक इश्यू 1,100 करोड़ रुपये पब्लिक इश्यू प्रमोटर सिओन इनवेस्टमेंट होल्डिंग प्रा. का 100 फीसदी ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) है। प्रमोटर सिओन इनवेस्टमेंट होल्डिंग प्रा. की कंपनी में 100 फीसदी हिस्सेदारी है। इश्यू के बाद प्रमोटर की शेयरहोल्डिंग घटकर 65.59 फीसदी रह जाएगी।

इनवेस्टर मिनिमम 69 शेयर और उसके बाद 69 के मल्टीपल में शेयरों के लिए बिड लगा सकते हैं। रिटेल इनवेस्टर एक लॉट के लिए न्यूनतम 14,904 रुपये और अधिकतम 13 लॉट के लिए 1,93,752 रुपये निवेश कर सकते हैं।

Zee-Sony के मर्जर को बोर्ड की मंजूरी, मर्ज्ड इकाई में Sony की होगी 50.86% हिस्सेदारी

पहले दिन 40 फीसदी सब्सक्राइब हुआ

इश्यू के पहले दिन, कंपनी को 3.75 करोड़ शेयरों के ऑफर की तुलना में 1.48 करोड़ शेयरों के लिए बिड मिलीं। इस प्रकार आईपीओ 40 फीसदी सब्सक्राइब हुआ है। रिटेल इनवेस्टर्स ने 79 फीसदी, नॉन इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स ने 1 फीसदी सब्सक्राइब किया, जबकि इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स के लिए बिड लगाना बाकी है।

कंपनी भारत में बैंकों, फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस, ऑर्गनाइज्ड रिटेल और ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए इंस्टालिंग, रखरखाव और एसेट्स व टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस के प्रबंधन के काम से जुड़ी हुई है।

वित्त वर्ष 20-21 में कंपनी की करंसी डालने की कुल क्षमता या उसके एटीएम से गुजरने वाली करंसी की कुल वैल्यू और रिटेल कैश मैनेजमेंट बिजनेस लगभग 9.2  लाख करोड़ रुपये का है। 31 अगस्त, 2021 तक, सीएमएस के पास देश भर में 3,965 कैश वैन और 238 ब्रांच और ऑफिसेस का नेटवर्क था।

म्यूचुअल फंडों के पसंदीदा लॉर्जकैप स्टॉक, जिनमें 1 साल में दिखी 400% तक की तेजी

ब्रोकरेज की क्या है सलाह

एंजिल वन ने जहां इश्यू को “न्यूट्रल” रेटिंग दी है, वहीं जीईपीएल कैपिटल और चॉइस ब्रोकिंग ने “सब्सक्राइब” की सलाह दी है। केआर चोकसी ने “लिस्टिंग गेन के लिए सब्सक्राइब” की सलाह दी है।

ब्रोकरेज हाउस का मानना है कि कंपनी का एक मजबूत प्रोडक्ट पोर्टफोलियो, एकीकृत बिजनेस प्लेटफॉर्म, मजबूत कम्टमर रिलेशन और अच्छा ट्रैक रिकॉर्ड है।

चॉइस ब्रोकिंग ने एक नोट में कहा, प्रतिकूल सरकारी नीतियां और नियमन, बैंकों की वित्तीय स्थिति में गिरावट, कॉस्ट इनफ्लेशन और कॉम्पिटीशन उससे जुड़े कुछ रिस्क हैं।

एंजिल वन ने कहा, “प्राइस बैंडच के अपर एंड पर, सीएमएस वित्त वर्ष के 11.4 के ईपीएस पर 19 गुने पी/ई मल्टीपल पर ट्रेड करेगा, जो एसआईएस पर कुछ महंगा होगा।” ब्रोकरेज ने रेवेन्यू के लिए उसकी ज्यादातर बैंकिंग सेक्टर पर निर्भरता को देखते हुए सीएमएस को “न्यूट्रल” व्यू दिया है।

31 दिसंबर को लिस्टिंग का अनुमान

कंपनी शेयरों के अलॉटमेंट को 28 दिसंबर को अंतिम रूप देगी, असफल इनवेस्टर्स को 29 दिसंबर तक रिफंड मिल जाएगा और सफल बिडर्स के डिमैट अकाउंट में 30 दिसंबर तक शेयर पहुंच जाएंगे।

सीएमएस इन्फो सिस्टम्स के शेयर बीएसई और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर 31 दिसंबर को लिस्ट होने का अनुमान है।

डिसक्लेमर : मनीकंट्रोल पर इनवेस्टमेंट एक्सपर्ट्स के विचार और निवेश के टिप्स उनके अपने हैं, वेबसाइट या उसके मैनेजमेंट के नहीं। मनीकंट्रोल अपने यूजर्स को निवेश से जुड़े फैसले लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट्स से संपर्क करने की सलाह देते हैं।

 

 

 

यह भी पढ़े:  MapmyIndia के शेयरों की दमदार लिस्टिंग, इश्यू प्राइस से 53% प्रीमियम पर लिस्ट हुआ शेयर
close