Delhivery ने IPO आवेदन से पहले शेयरहोल्डर्स को जारी किए बोनस शेयर

Delhivery आईपीओ के जरिए करीब 1 अरब डॉलर जुटाने की योजना पर काम कर रही है

लॉजिस्टिक्स सेवाएं मुहैया कराने वाली कंपनी डेल्हीवरी (Delhivery) ने 29 सितंबर को हुई एक्स्ट्राऑर्डिनरी जनरल मीटिंग (EGM) में पारित प्रस्ताव के तहत शेयरधारकों को  बोनस शेयर जारी किए हैं। कंपनी ने यह बोनस शेयर ऐसे समय में जारी किए हैं, जब वह आईपीओ के लिए सेबी के पास आवेदन जमा कराने की तैयारी में है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक Delhivery इक्विटी शेयरहोल्डरों को 9:1 के अनुपात में 1.68 करोड़ बोनस शेयर आवंटित करने का फैसला किया है। कंपनी ने एक रेगुलेटर को भेजे डॉक्यूमेंट में बताया कंपनी ने 90 शेयरहोल्डरों को सूचीबद्ध किया है, जिन्हें बोनस शेयर मिले हैं।

Rakesh Jhunjhunwala Portfolio: 52-हफ्तों के हाई पर पहुंचा इस सरकारी बैंक का शेयर, अभी और तेजी आनी बाकी

इसके अलावा, कंपनी अपने कंपल्सरी कन्वर्टिबल प्रेफरेंस शेयर (CCPS) को 10:1 में समायोजित करना चाहती है। इसका मतलब है कि कंपनी 10 रुपये के 10 इक्विटी शेयरों को 100 रुपये के एक CCPS में एडजस्ट करना चाहती है।

सॉफ्टबैंक विजन फंड और Carlyle ग्रुप के निवेश वाली डेल्‍हीवेरी अपने आईपीओ के जरिए करीब 1 अरब डॉलर जुटाने की योजना पर काम कर रही है। डेल्हीवेरी का आईपीओ इस वित्त वर्ष के अंत तक आ सकता है। पिछले महीने कंपनी ने बताया था कि अमेरिकी इनवेस्टमेंट फर्म टाइगर ग्लोब के पूर्व पार्टनर, ली फिक्सल ने कंपनी में 12.5 करोड़ डॉलर का अतिरिक्त ननिवेश किया है।

Paytm IPO के लिए फॉरेन इनवेस्टर्स से 20-22 अरब डॉलर के वैल्यूएशन पर डिमांड

इससे पहले कंपनी ने अगस्त में स्ट्रैटजिक इनवेस्टर फेडएक्स से 10 करोड़ डॉलर जुटाए थे। कंपनी ने बताया कि EGM में कुछ पूर्व और मौजूदा कर्मचारियों को ईसॉप्स के तहत अधिक स्टॉक ऑप्शन आवंटित करने का प्रस्ताव भी पारित हुआ।
 
सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (
https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

यह भी पढ़े:  LIC के मेगा IPO को लेकर कहां तक पहुंची तैयारी, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की समीक्षा
close