Emcure और Adani Wilmar सहित 38 IPO को मिली मंजूरी, एक्सपर्ट्स से जानिए आगे क्या हो प्राइमरी मार्केट में आपकी रणनीति

में Pharmeasy, Delhivery, MobiKwik, Ola और Oyo जैसी नए जनरेशन की कंपनियां बाजार में लिस्टिंग की तैयारी के लिए कमर कस रही हैं.

शेयर बाजार के दिग्गज इस बात को लेकर आश्वस्त है कि 2022 भी प्राइमरी मार्केट के लिए एक शानदार साल रहेगा। इस साल में एलआईसी सहित कई बड़े आईपीओ धमाल मचाते नजर आएंगे। मार्केट एक्सपर्ट्स को लगता है कि बाजार को आगे इकोनॉमी में आ रही मजबूती और कंपनियों के प्रदर्शन में सुधार का फायदा मिलता दिखेगा। जिससे अंतत: प्राइमरी मार्केट के सेटिमेंट को भी सपोर्ट मिलेगा।

बाजार जानकारों को अब तक मंजूरी के लिए लाइन में लगे आईपीओ की बढ़ती संख्या से भी बूस्ट मिल रहा है। अब तक जितने आईपीओ को मंजूरी मिली है और जितने मंजूरी का इंतजार कर रहे हैं उनका नंबर लगभग बराबर है। आंकड़ों पर नजर डालें तो अब तक 38 कंपनियों के आईपीओ को सेबी से मंजूरी मिल चुकी है जबकि 36 कंपनियों के आईपीओ को सेबी से मंजूरी का इंतजार है।

Axis Capital ने जनवरी की शुरुआत में आई अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अभी तक सेबी ने 37 आईपीओ के लिए ऑब्जर्वेशन जारी कर दिया है जबकि 37 आईपीओ के पेपर सेबी में दाखिल किए गए हैं जिनको सेबी की हरी झंडी का इंताजर है।

बाजार जानकारों का कहना है कि कैलेंडर ईयर 2022 के पहली तिमाही में 20 कंपनियों अपने आईपीओ ल़ॉन्च कर सकती हैं। इनमें Emcure Pharmaceuticals, ESDS Software Solutions, AGS Transact Technologies, Tracxn Technologies, Adani Wilmar, ESAF Small Finance Bank, Go Airlines, Arohan Financial Services, Paradeep Phosphates, One MobiKwik Systems, और Skanray Technologies के नाम शामिल हैं।

सरकार ने TCS को पासपोर्ट सेवा प्रोगाम के दूसरे चरण की जिम्मेदारी सौंपी

इसके अलावा एलआईसी का 70,000-1,00,000 करोड़ रुपये का देश का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ वर्तमान तिमाही में ही आ सकता है। हालांकि एलआईसी ने अभी तक अपने आईपीओ के ड्राफ्ट पेपर सेबी में नहीं दाखिल किए हैं।

Samco Securities की Yesha Shah का कहना है कि अगर प्राइमरी मार्केट में इसी तरह का जोश जारी रहा तो कैलेंडर ईयर 2022 आईपीओ के लिए रिकॉर्ड ब्रेकिंग ईयर हो सकता है। उन्होंने आगे कहा कि 2020 की आईपीओ पाइपलाइन काफी मजबूत है। अभी तक 30 से ज्यादा आईपीओ को मंजूरी मिल चुकी है और इससे ज्यादा मंजूरी के लाइन में लगे हैं। 2021 बाजार में नए युग के आईपीओ की स्वीकृति का साल रहा। 2022 में Flipkart, Ola, Pharmeasy और Delhivery जैसे टेक्नोलॉजी आधारित नए युग के आईपीओ बाजार में आने की तैयारी में हैं। इसके अलावा Adani Wilmar, Emcure Pharmaceuticals और Vedant Fashions अपने आईपीओ ला सकते हैं।

Green Portfolio के Divam Sharma का कहना है कि 2022 आईपीओ बाजार के लिए 2021 की तुलना में बेहतर रहेगा। क्योंकि 2021 में Nykaa, Zomato और Paytm के ऑफर के जरिए बाजार इनकी जांच कर चुका है। अब आगे हमें ज्यादा मैच्योरिटी आने की उम्मीद है। उन्होंने आगे कहा कि आईपीओ बाजार में वैल्यूएशन को लेकर चिंता हो सकती है लेकिन नए युग की इन कंपनियों में निवेशकों को भारी रुचि है। ऐसे में Pharmeasy, Delhivery, MobiKwik, Ola और Oyo जैसी नए जनरेशन की कंपनियां बाजार में लिस्टिंग की तैयारी के लिए कमर कस रही हैं।

यह भी पढ़े:  Elin Electronics ने अपने 760 करोड़ रुपए के IPO के लिए सेबी में दाखिल किए पेपर
close