IPO मार्केट ने 2021 में बनाए रिकॉर्ड मल्टीबैगर, जानिए क्या हो सकता है 2022 की झोली में

2021 के मल्टीबैगर आईपी स्टॉक की सूची में हेल्थकेयर फर्म Nureca Ltd और Paras Defence & Space Technologies Ltd टॉप 2 स्टॉक्स में शामिल हैं.

2021 प्राइमरी मार्केट के लिए शानदार साल रहा है। इसने एनुअल फंड रेजिंग, सब्सक्रिप्शन आंकडों, अब तक की सबसे ज्यादा लिस्टिंग, लिस्टिंग गेन और मल्टीबैगरों की संख्या के नजरिए से तमाम इतिहास रचे। इस साल 15 आईपीओ स्टॉक मल्टीबैगर साबित हुए है। वहीं 15 कंपनियां ऐसी रही है जिन्होंने निवेशकों को निराश किया है और उनमें डबल डिजिट करेक्शन देखने को मिला है।

आईपीओ बाजार के ओवरऑल एडवांस डिक्लाइन रेश्यों पर नजर डालें तो गिरने वालों की संख्या की तुलना में बढ़ने वाले आईपीओ स्टॉक की संख्या ज्यादा रही है। इस साल आए करीब 70 फीसदी आईपीओ स्टॉक आज हरे निशान में बंद हुए हैं। वास्तव में सेकेंडरी मार्केट की तेजी ने प्राइमरी मार्केट में भी जोश भर दिया। ऐसा सिर्फ भारत में ही नहीं हुआ बल्कि पूरी दुनिया का यही हाल था।

Piper Serica के अभय अग्रवाल ने मनीकंट्रोल से कहा कि पूरी दुनिया में आईपीओ के जरिए 2021 में कुल 45 अरब डॉलर जुटाए गए हैं। ब्याज दरों की निम्न दर, आसानी से उपलब्ध पूंजी, कोविड-19 के मामले में आ रहा सुधार , कोरोना टीकाकरण की बढ़ती गति, दुनिया भर के तमाम सरकारों और केंद्रीय बैंकों द्वारा इकोनॉमी को राहत देने के लिए उठाए गए कदम और रिटेल निवेशकों की बढती हिस्सेदारी ने मार्केट सेंटिमेंट को सपोर्ट दिया।

2021 के मल्टीबैगर आईपी स्टॉक की सूची में हेल्थकेयर फर्म Nureca Ltd और Paras Defence & Space Technologies Ltd टॉप 2 स्टॉक्स में शामिल हैं। इन स्टॉक्स में इनके इश्यू प्राइस से अब तक 300 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है। इसके बाद अगले 2 स्टॉक हैं MTAR Technologies और Laxmi Organic Industries। इनमें इश्यू प्राइस से अब तक 297 और 230 फीसदी की तेजी देखने को मिली है।

इसी तरह दूसरे मल्टीबैगर आईपीओ स्टॉक्स की बात करें तो Latent View Analytic, Easy Trip Planners, Clean Science, Barbeque-Nation Hospitality, Macrotech Developers, Stove Kraft, Sona BLW Precision, Tatva Chintan Pharma, Sigachi Industries, Nazara Technologies और GR Infraprojects में इस साल के दौरान इनके इश्यू प्राइस से 106-182 फीसदी तक की तेजी दिखाई है।

Taking Stock | 2021 में बाजार 20% की बढ़त के साथ हुआ बंद, जनवरी सीरीज की बढ़त के साथ हुई शुरुआत, जानिए सोमवार को कैसी रहेगी बाजार की चाल

इस साल आए कुछ और आईपीओ ने बाजार में हलचल मचाई। हालांकि इनका अब तक रिटर्न 100 फीसदी से नीचे रहा। इसमें Nykaa, Zomato, MapmyIndia और Devyani International के नाम शामिल हैं।

लेकिन बाजार जानकारों को इस बात को लेकर संदेह है कि 2022 भी आईपीओ बाजार के लिए इतना ही शानदार रहेगा। बाजार एक्सपर्ट्स का कहना है कि आगे हमें केंद्रीय बैंक अपनी मौद्रिक नीति में कड़ाई लाते नजर आ सकते हैं जिसके चलते ब्याज दरों में बढ़ोतरी हो सकती है। इसके अलावा आनेवाले साल में इन्वेस्टर वैल्यूएशन को लेकर ज्यादा सावधान नजर आएंगे।

BP Wealth के Yuvraj A. Thakker का कहना है कि ” हाई लिक्विडिटी, निवेशकों की संख्या में बढ़त, टीकाकरण में आती तेजी जैसी वजहों के कारण 2021 एक असामान्य साल रहा। इस साल पूरी दुनिया के बाजारों में तेजी देखने को मिली है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि 2022 भी ऐसा ही रहेगा। ” 2022 में हमें मल्टीबैगर स्टॉक्स की संख्या में गिरावट देखने को मिल सकती है। 2022 में भी इतने ही आईपीओ आ सकते हैं लेकिन वैल्यूएशन ही उनकी सफलता का मुख्य आधार होगा । मार्केट हर आईपीओ को दौड़कर गले नहीं लगाएगा बल्कि निवेशक सोचसमझकर अच्छे वैल्यूएशन वाले क्वालिटी आईपीओ में ही पैसा लगाएगा।

यह भी पढ़े:  Paytm IPO: देश का सबसे बड़ा IPO आज खुला, जानिए क्या आपको निवेश करना चाहिए?
close