Latent View Analytics IPO: क्या पेटीएम के जख्म भुला 23 नवंबर को बंपर लिस्टिंग की तैयारी में है शेयर बाजार?

Latent View Analytics IPO का ग्रे मार्केट प्रीमियम फिलहाल 180 पर्सेंट चल रहा है

ग्लोबल डेटा एनालिटिक्स कंपनी लैटेंट व्यू एनालिटिक्स (Latent View Analytics) का आईपीओ कल 23 नवंबर को शेयर बाजार में लिस्ट होगा। एनालिस्टो को उम्मीद है यह शेयर अपने 197 रुपये के इश्यू प्राइस से 150% अधिक कीमत पर लिस्ट हो सकता है। अगर ऐसा होता है तो यह आईपीओ मार्केट के लिए एक बड़ा बूस्ट होगा, जो पेटीएम की खराब लिस्टिंग के बाद से नेगेटिव मूड में है।

Latent View Analytics के करीब 600 करोड़ रुपये के आईपीओ को निवेशकों ने हाथोंहाथ लिया था और यह 326 गुना अधिक सब्सक्राइब हुआ था। इसके साथ ही अब तक का सबसे अधिक सब्सक्राइब किया जाने वाला आईपीओ भी बन गया है। कंपनी की मजबूत वित्तीय सेहत, वाजिब वैल्यूएशन और ग्रोथ की अच्छी संभावना के चलते अधिकतर एनालिस्टों ने इस आईपीओ को पॉजिटिव रेटिंग दिए हैं।

Wright Research की फाउंडर सोनम श्रीवास्तव ने बताया, “Latent View Analytics के शेयर बंपर लिस्टिंग के लिए तैयार है। यह आईपीओ 326 गुना अधिक सब्सक्राइब हुआ था और इसका ग्रे मार्केट प्रीमियम फिलहाल 180 पर्सेंट चल रहा है।”

उन्होंने बताया, “इसे आईपीओ ने मुझे आईटी फर्म Happiest Minds की याद दिला दी है, जो न सिर्फ 113 पर्सेंट के प्रीमियम के साथ लिस्ट हुआ था, बल्कि यह लिस्टिंग के बाद से अब तक 11 महीनों में 600 पर्सेंट चढ़ चुका है।”

हालांकि शेयर मार्केट में लगातार जारी गिरावट का दौर एक चिंता विषय बना हुआ है। बेंचमार्क इंडेक्स अक्टूबर महीने के अपने रिकॉर्ड हाई से करीब 6.5 पर्सेंट नीचे ट्रेड कर रहा है। सोमवार को भी बाजार में मंदड़िए हावी दिखे। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स सोमवार को 1,170.12 अंक टूटकर 58,465.89 पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 348.25 लुढ़कर 17,416.55 के स्तर पर बंद हुआ। दिन के कारोबार के दौरान तो सेंसेक्स 1500 अंक से भी अधिक टूट गया था।

Latent view Analytics ने 600 करोड़ रुपए का IPO लॉन्च किया था। इसमें 474 करोड़ रुपए का फ्रेश इश्यू और 126 करोड़ रुपए के शेयर, ऑफर फॉर सेल (OFS) में बेचे गए थे। कंपनी के इश्यू का प्राइस बैंड 190-197 रुपए था। कंपनी का इश्यू 10 नवंबर को खुला और 12 नवंबर को बंद हुआ था।

यह भी पढ़े:  RBL Bank : जवाबों से ज्यादा सवाल अभी भी बाकी हैं
close