LIC IPO: सरकार ने देरी अटकलों को खारिज करके कहा, मार्च 2022 तक आ जाएगा LIC का इश्यू

LIC IPO: लिस्टिंग के बाद LIC मार्केट कैप के हिसाब से देश की सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगा, कंपनी का वैल्यूएशन 8-10 लाख करोड़ रुपए हो सकता है

LIC IPO: सरकार ने उन तमाम अटकलों को खारिज कर दिया है जिसमें यह बात कही जा रही थी कि जीवन बीमा निगम (LIC) का IPO लाने में देर हो सकती है। सरकार ने कहा है कि LIC का IPO फिस्कल ईयर 2021 की चौथी तिमाही तक आ जाएगा। LIC की लिस्टिंग के बाद यह मार्केट कैप के हिसाब से देश की सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगा। कंपनी का वैल्यूएशन 8-10 लाख करोड़ रुपए हो सकता है।

डिपार्टमेंट ऑफ इनवेस्टमेंट एंड पब्लिक एसेट मैनेजमेंट (DIPAM) के सेक्रेटरी तुहीन कांत पांडे ने एक ट्वीट करके बताया कि पूरा भरोसा है कि LIC का IPO तय समय पर ही आएगा। उन्होंने ट्वीट किया है कि फिस्कल ईयर 2021-2022 की मार्च तिमाही तक LIC का IPO आ जाएगा।

CCI द्वारा Amazon डील निलंबित किए जाने के बाद फ्यूचर ग्रुप के शेयरों में 20% का इजाफा

तुहीन कांत पांडे ने दोहराया कि इस फिस्कल ईयर की चौथी तिमाही तक कंपनी का इश्यू आ जाएगा। DIPAM के सेक्रेटरी ने ट्वीट किया है, “कुछ मीडिया यह अटकलें लगा रहे हैं कि इस फिस्कल ईयर में LIC का IPO ठीक नहीं है। उन्होंने दोहराया कि इस फिस्कल ईयर की चौथी तिमाही तक LIC का IPO आ जाएगा।”

आर्थिक मामलों पर बनी कैबिनेट कमिटी (CCEA) ने इस साल जुलाई में LIC के IPO को सैद्धांतिक तौर पर मंजूरी दे दी थी। सरकार ने इसके इश्यू के लिए पहले ही 10 मर्चेंट बैंकर्स को नियुक्त कर लिया है। LIC का IPO लाने के लिए इस साल सरकार ने Life Insurance Corporation Act, 1956 में कुल 27 बदलाव किए हैं।

यह भी पढ़े:  Adani Wilmar IPO: कंपनी का इश्यू 27 जनवरी को खुलेगा, प्राइस बैंड 218-230 रुपए तय हुआ
close