Medplus Health Services IPO : 13 दिसंबर को खुलेगा आईपीओ, प्राइस बैंड सहित जान लें हर जरूरी जानकारी

प्रमोटर गंगादि मधुकर रेड्डी, एजाइलमेड इन्वेस्टमेंट्स और लोन फुरो इन्वेस्टमेंट्स के पास है कंपनी की 43.16 फीसदी हिस्सेदारी

भारत की दूसरी बड़ी फार्मेसी रिटेलर मेडप्लस हैल्थ सर्विसेज (Medplus Health Services) ने 13 दिसंबर को अपना आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) लॉन्च करने का ऐलान किया है और इसका प्राइस बैंड 780-796 रुपये प्रति इक्विटी शेयर तय किया गया है।

कंपनी अपने पब्लिक इश्यू के माध्यम से 1,398.29 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बना रही है, जिसमें 600 करोड़ रुपये के नए इक्विटी शेयर और शेयरधारकों के 798.29 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री के लिए बिक्री पेशकश (OFS) शामिल है।

ये निवेशक बेच रहे हैं शेयर

इस ओएफएस के माध्यम से निवेशक PI Opportunities Fund – I 623 करोड़ रुपये के और SS Pharma LLC 107 करोड़ रुपये के शेयर बेचने जा रहे हैं। अन्य में शोर फार्मा एलएलसी, नैटको फार्मा, टाइम कैप फार्मा लैब्स, ए राघव रेड्डी, के प्रकुर्थि, नवदीप पटयाल, संगीता राजू, आर वेंकट रेड्डी, टीके कुरियन, नित्या वेंकटरमानी, अतुल गुप्ता, मनोज जायसवाल, राहुल गर्ग, कोरेनगोडे रामनाथन लक्ष्मीनारायण और बिजॉय कुरियन शामिल हैं, जो ओएफएस के माध्यम से अपने शेयर बेचने जा रहे हैं।

MapmyIndia IPO : इस सप्ताह आईपीओ खुलने से पहले ग्रे मार्केट में कीमतें मजबूत, जानें पूरी डिटेल

कर्मचारियों को 78 रुपये डिस्काउंट पर मिलेंगे शेयर

ऑफर में 5 करोड़ रुपये के शेयर कंपनी के कर्मचारियों के लिए आरक्षित हैं। पात्र कर्मचारियों को अंतिम ऑफर प्राइस पर 78 रुपये के डिस्काउंट पर शेयर मिलेंगे। नए इश्यू से मिली धनराशि को कंपनी द्वारा अपनी मैटेरियल सब्सिडियरी ऑप्टिवल की वर्किंग कैपिटल की जरूरतों को पूरा करने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा।

निवेशक कम से कम 18 इक्विटी शेयरों के लिए और उसके 18 के गुणक में इक्विटी शेयरों के लिए बिड लगा सकते हैं। खुदरा निवेशक एक लॉट के लिए कम से कम 14,328 रुपये और अधिकतम 13 लॉट के लिए 1,86,264 रुपये का निवेश कर सकते हैं।

आधा ऑफर पात्र संस्थागत निवेशकों (क्यूआईबी), 35 फीसदी खुदरा निवेशकों के लिए और बाकी 15 फीसदी गैर संस्थागत निवेशकों के लिए आरक्षित है।

Tega Industries, MapmyIndia ग्रे मार्केट में मजबूती के साथ कर रहे कारोबार, जानिए दूसरे IPO का हाल

भारत की दूसरी बड़ी फार्मेसी रिटेलर है मेडप्लस

मेडप्लस वित्त वर्ष 21 में ऑपरेशन से रेवेन्यू और मार्च, 2021 तक स्टोर्स की संख्या के आधार पर भारत की दूसरी सबसे बड़ी फार्मेसी रिटेलर है। यह तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, ओडिशा, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र में 2,000 स्टोरों के माध्यम से फार्मास्युटिकल और वेलनेस उत्पादों की पेशकश करती है। प्रमोटर गंगादि मधुकर रेड्डी, एजाइलमेड इन्वेस्टमेंट्स और लोन फुरो इन्वेस्टमेंट्स के पास कंपनी की 43.16 फीसदी हिस्सेदारी है।

तेजी से बढ़ा है कंपनी का प्रॉफिट

मेडप्लस ने वित्त वर्ष 2021 में 63.11 करोड़ रुपये का प्रॉफिट दर्ज किया था, जबकि वित्त वर्ष 2020 में यह महज 1.79 करोड़ रुपये था। इस अवधि में कंपनी का रेवेन्यू 2,870.6 करोड़ रुपये से बढ़कर 3,069.26 करोड़ रुपये हो गया है।

इश्यू के लिए एक्सिस कैपिटल, क्रेडिट सुइस सिक्योरिटीज (इंडिया), एडलवीस फाइनेंशियल सर्विसेज और नॉमुरा फाइनेंशियल एडवाइजरी एंड सिक्योरिटीज (इंडिया) लीड मैनेजर हैं।

यह भी पढ़े:  LIC Jeevan Anand Policy: 1400 रुपये जमा करने पर मिलेंगे 25 लाख रुपये, जानें एलआईसी की जीवन आनंद पॉलिसी की खासियत
close