Medplus IPO की अलॉटमेंट डेट पर टिकीं सबकी नजर, लेकिन GMP दे रहा क्या संकेत?

आज मेडप्लस के आईपीओ का जीएमपी 260 रुपये है, जो कल के 250 रुपये के प्रीमियम से 10 रुपये ज्यादा है

Medplus Health Services IPO: मेडप्लस हेल्थ सर्विसेज के आईपीओ (IPO) के लिए बिडिंग बंद होने के बाद, बिडर्स और मार्केट के जानकार उत्सुकता से आईपीओ की अलॉटमेंट डेट का इंतजार कर रहे हैं, जो 20 दिसंबर होने की संभावना है। तीन के सब्सक्रिप्शन में, आईपीओ कुल 52.59 गुना सब्सक्राइब हुआ, जबकि इसका रिटेल पोर्शन 5.24 गुना सब्सक्राइब हुआ। इनवेस्टर्स की तरफ से मिले मजबूत रिस्पांस के बाद, इस इश्यू के लिए ग्रे मार्केट भी बूलिश दिख रहा है। मार्केट के जानकारों के मुताबिक, मेडप्लस हेल्थ का शेयर ग्रे मार्केट में आज 260 रुपये के प्रीमियम पर उपलब्ध है।

मेडप्लस आईपीओ जीएमपी

लाइवमिंट की एक रिपोर्ट के मुताबिक, बाजार के जानकारों ने बताया कि आज मेडप्लस के आईपीओ का जीएमपी 260 रुपये है, जो कल के 250 रुपये के प्रीमियम से 10 रुपये ज्यादा है। उन्होंने कहा कि मेडप्लस आईपीओ का ग्रे मार्केट प्राइस पिछले एक हफ्ते से 225 से 280 रुपये के आसपास बना हुआ है, जिससे जाहिर होता है कि ग्रे मार्केट अभी भी इस पब्लिक इश्यू को लेकर पॉजिटिव बना हुआ है। उन्होंने कहा कि सब्सक्रिप्शन के बंद होने, मजबूत सब्सक्रिप्शन ने ग्रे मार्केट को मेडप्लस हेल्थ आईपीओ पर बूलिश रखने में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि शेयर अलॉटमेंट की तारीख से पहले ग्रे मार्केट अच्छे संकेत दे रहा है और निवेशक आईपीओ से अच्छे लिस्टिंग प्रीमियम की उम्मीद कर सकते हैं।

5 ऐसे लॉर्जकैप फंड जिन्होंने 1-3 साल की अवधि में किया निफ्टी 100 TRI से बेहतर प्रदर्शन

क्या है जीएमपी का मतलब?

मार्केट के जानकारों ने कहा कि जीएमपी निवेशकों को मिलने वाले संभावित लिस्टिंग गेन्स का आइडिया देता है। मेडप्लस आईपीओ का जीएमपी आज 260 रुपये है, जिसका मतलब है कि ग्रे मार्केट मेडप्लस हेल्थ के शेयर की 1,056 रुपये (796+260 रुपये) पर लिस्टिंग की उम्मीद कर रहा है। यह कीमत 780-796 रुपये के प्राइस बैंड पर 30 फीसदी ज्यादा है।

हालांकि, स्टॉक मार्केट एक्सपर्ट्स ने सलाह दी है कि बिडर्स को जीएमपी की बजाय कंपनी की बैलेंसशीट पर ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि जीएमपी एक अनऑफीशियल डाटा है, जिसका कंपनी की बैलेंसशीट से कोई मतलब नहीं है।

अच्छे प्रदर्शन के बावजूद इश्यू महंगा

मेडप्लस के फंडामेंटल्स पर UnlistedArena.com के फाउंडर अभय दोशी ने कहा, “ऑपरेशंस से रेवेन्यू के मामले में मेडप्लस दूसरी सबसे बड़ी फार्मेसी रिटेलर है। इसके 2,000 से ज्यादा रिटेल स्टोर हैं। वहीं कुल रेवेन्यू में उसकी ऑनलाइन सेल्स की हिस्सेदारी लगभग 9 फीसदी है। वित्त वर्ष 19-21 के दौरान ऑपरेशंस से रेवेन्यू और ऑपरेटिंग एबिट्डा क्रमशः 16.21 फीसदी और 63.21 फीसदी बढ़ा है। वित्त वर्ष 22 में भी इसका प्रदर्शन शानदार रहा है। ऊपरी बैंड पर, इश्यू की कीमत उसकी बुक वैल्यु (इश्यू के बाद) लगभग 6.8 गुनी है। अच्छे प्रदर्शन के बावजूद यह इश्यू महंगा लगता है।”

यह भी पढ़े:  Gold Price Latest: आज सोना हुआ सस्ता, जानें 24 से 18 कैरेट गोल्ड के दाम में आई कितनी गिरावट
close