Nandan Terry IPO: टॉवेल बनाने वाली इस कंपनी ने IPO के लिए जमा किया ड्राफ्ट पेपर, ₹255 करोड़ जुटाने की तैयारी

नंदन टेरी अपने इनीशियल पब्लिक ऑफर (IPO)से 254.96 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में है

अहमदाबाद मुख्यालय वाली कंपनी नंदन टेरी (Nandan Terry) ने अपना इनीशियल पब्लिक ऑफर (IPO) लाने के लिए मार्केट रेगुलेटर SEBI के पास ड्राफ्ट पेपर जमा कराए हैं। कंपनी आईपीओ से 254.96 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में है।

ड्राफ्ट पेपर में कहा गया है कि आईपीओ के लिए फाइनल पेपर जमा करने से पहले कंपनी प्री-आईपीओ प्लेसमेंट के जरिए 40 करोड़ रुपये जुटाने पर विचार करेगी। अगर यह प्री-आईपीओ प्लेसमेंट सफल रहता है, तो आईपीओ साइज को उसी के मुताबित घटाया जा सकता है।

कंपनी ने बताया कि वह आईपीओ से जुटाई गई रकम का इस्तेमाल कर्ज को चुकाने, वर्किंग कैपिटल की जरूरत को पूरा करने और जनरल कॉरपोरेट के दूसरे उद्देश्यों को पूरा करने के लिए करेगी।

Anand Rathi Wealth के IPO की कल होगी लिस्टिंग, जान लें ग्रे मार्केट प्रीमियम सहित दूसरी जरूरी बातें

नंदन टेरी, चिरिपाल ग्रुप की कंपनी है, जिसकी स्थापना 2015 में हुई थी। यह मुख्य रूप से टेरी टॉवल्स और टॉवलिंग उत्पादों को बनाने का काम करती है। कंपनी की टेक्सटाइल्स, एजुकेशन, रियल एस्टेट, पैकेजिंग और केमिकल्स सेक्टर्स में उपस्थिति है और यह इन सेक्टर्स में मैन्युफैक्चरिंग, कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरिंग, ट्रेडिंग, डिस्ट्रीब्यूशन और सर्विस-रिलेटेड सेवाएं मुहैया कराती है।

कंपनी की 79.65 पर्सेंट हिस्सेदारी प्रमोटरों के पास है। इनमें देविकानंदन कॉरपोरेशन LLP और चिरिपाल एक्जिम LLP दोनों के पास 26.35 पर्सेंट हिस्सेदारी है।

वित्त वर्ष 2020-21 में नंटन टेरी की ऑपरेशन से होने वाली आमदनी 538.52 करोड़ रुपये थी, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में दर्ज 429.39 करोड़ रुपये की आमदनी से 25.42 प्रतिशत अधिक है। वित्त वर्ष 2021 में कंपनी को 23.37 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था, जो इसके पिछले वित्त वर्ष में 1.22 करोड़ रुपये था।

यह भी पढ़े:  HP Adhesives IPO: शेयर अलॉटमेंट से पहले जानें क्या है GMP, कैसे मिल रहे संकेत
close