Oyo का IPO में 12 अरब डॉलर से अधिक वैल्यूएशन का टारगेट, हिस्सेदारी नहीं बेचेंगे फाउंडर

कंपनी में पिछले महीने माइक्रोसॉफ्ट कॉर्प ने 9 अरब डॉलर की वैल्यू पर इनवेस्टमेंट किया था

ओयो होटल्स का इनिशियल पब्लिक ऑफर (IPO) में 12-15 अरब डॉलर के वैल्यूएशन का टारगेट है। हालांकि, कंपनी के फाउंडर रितेश अग्रवाल IPO में कोई हिस्सेदारी नहीं बेचेंगे। जापान के सॉफ्टबैंक से बड़ा फंड हासिल करने वाली ओयो में पिछले महीने माइक्रोसॉफ्ट कॉर्प ने 9 अरब डॉलर की वैल्यू पर स्ट्रैटेजिक इनवेस्टमेंट किया था।

ओयो IPO में नए शेयर्स जारी कर 1-1.2 अरब डॉलर जुटाने पर विचार कर रही है।

कंपनी के मौजूदा इनवेस्टर्स ऑफर फॉर सेल के जरिए कुछ हिस्सेदारी बेचेंगे। हालांकि, अग्रवाल के हिस्सेदारी बेचने की संभावना नहीं है। उनके पास ओयो की प्रमुख कंपनी ओरावेल स्टेज में 30 प्रतिशत से अधिक हिस्सेदारी है।

दिल्ली हाई कोर्ट ने सुपरटेक को दिया होमबायर्स के एकाउंट में 50 लाख रुपये जमा करने का निर्देश

ओयो अगले सप्ताह IPO के लिए मार्केट रेगुलेटर सेबी के पास डॉक्युमेंट्स जमा कर सकती है। कंपनी IPO का प्राइस ऐसा रखना चाहती है जिससे इनवेस्टर्स को लिस्टिंग पर मुनाफा हो सके।

देश के कई टॉप स्टार्टअप्स ने हाल के महीनों में IPO के लिए डॉक्युमेंट जमा किए हैं या ऐसा करने वाले हैं। इनमें पेटीएम, नायका, पॉलिसीबाजार और डेलीवेरी शामिल हैं। 

जुलाई में जोमाटो देश के स्टॉक एक्सचेंजों पर लिस्ट होने वाली पहली कंज्यूमर इंटरनेट कंपनी बनी थी। इसके IPO को इनवेस्टर्स की ओर से अच्छा रिस्पॉन्स मिला था। इसका शेयर इश्यू प्राइस से लगभग दोगुने पर कारोबार कर रहा है।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

 

यह भी पढ़े:  Data Patterns IPO: लिस्टिंग से एक दिन पहले ग्रे मार्केट प्रीमियम 35% बढ़ा, जानिए किस भाव पर हो सकती है लिस्टिंग
close