Pine Labs को IPO से पहले मिला बड़ा निवेश, SBI ने लगाए 2 करोड़ डॉलर

पाइन लैब्स ने आईपीओ के लिए मॉर्गन स्टैनली और गोल्डमैन सैक्स को एडवाइजर्स के रूप में अप्वाइंट किया है, कंपनी आईपीओ के जरिये 6 अरब डॉलर की वैल्युएशन हासिल होने की उम्मीद कर रही है

Pine Labs : इस साल इनीशियल पब्लिक ऑफर (आईपीओ) लाने की तैयारी कर रही पाइन लैब्स को एक नया इनवेस्टर मिल गया है। देश के सबसे बड़े पब्लिक सेक्टर के बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने 4 जनवरी को मर्चेंट प्लेटफॉर्म कंपनी में 2 करोड़ डॉलर का निवेश किया है।

एसबीआई के साथ भागीदारी संतोषजनक

फंडरेज पर टिप्पणी करते हुए, पाइन लैब्स के सीईओ बी अमरीश राजू ने कहा, “पिछले एक साल में, कई बड़े इनवेस्टर्स ने हमारे बिजनेस मॉडल और ग्रोथ पर भरोसा जताया है और यह एक अच्छा अहसास है। एसबीआई के साथ हमारी यह भागीदारी व्यक्तिगत रूप से संतोषजनक है, क्योंकि मैंने अपना कैरियर एसबीआई को फाइनेंसियल सर्विसेज बेचने के साथ शुरू किया था।”

LIC इस महीने के तीसरे हफ्ते तक सेबी में दाखिल कर सकती है अपने IPO की अर्जी- रिपोर्ट

70 करोड़ डॉलर जुटा चुकी है कंपनी

2021 में, पाइन लैब्स ने दो राउंड की फंडरेजिंग में 70 करोड़ डॉलर जुटाए थे। पहले राउंड में जुलाई, 2021 में 3 अरब डॉलर की वैल्युएशन के साथ फिडिलिटी, बैकरॉक और अन्य इनवेस्टर्स से 60 करोड़ डॉलर जुटाए थे।

सितंबर, 2021 में, कंपनी ने यूएस बेस्ड इनवेस्टमेंट मैनेजमेंट कंपनी इनवेस्को से 10 करोड़ डॉलर जुटाए थे। यह निवेश इनवेस्को डेवलपिंग मार्केट्स फंड के जरिये किया गया था।

Multibagger IPOs 2021: बीते साल के टॉप 5 इश्यू, जिन्होंने अपने निवेशकों को दिया 100% या उससे ज्यादा रिटर्न

कई इनवेस्टर्स का भरोसा हासिल

मर्चेंट्स पेमेंट पोओएस और बाई नाउ पे लेटर (बीएनपीएल) सॉल्युशंस उपलब्ध कराने वाली कंपनी को सिकोया कैपिटल, टेमासेक होल्डिंग्स, एक्टिस, पेपाल और मास्टरकार्ड सहित कई ग्लोबल इनवेस्टर्स का समर्थन हासिल है।

पाइन लैब्स भारत और साउथईस्ट एशिया में अपना बीएनपीएल बिजनेस बढ़ाने पर काम कर रही है। साथ ही कंपनी ने अप्रैल, 2021 में फेव के अधिग्रहण के साथ कंज्यूमर पेमेंट स्पेस में एंट्री की थी। बीते साल अक्टूबर में, पाइन लैब्स ने प्लूरल (Plural) नाम के पेमेंट गेटवे प्लेटफॉर्म के साथ ऑनलाइन पेमेंट स्पेस में दस्तक दी थी।

पाइन लैब्स की आईपीओ लाने की है योजना

एसबीआई ने पिछली बार जून, 2021 में डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म कैशफ्री (Cashfree) में इनवेस्टमेंट किया था। पब्लिक सेक्टर बैंक का इनवेस्टमेंट पाइन लैब्स की आईपीओ की योजना से पहले आया है, समझा जाता है कि कंपनी ने इसके लिए मॉर्गन स्टैनली और गोल्डमैन सैक्स को एडवाइजर्स के रूप में अप्वाइंट किया है। कंपनी आईपीओ के जरिये 6 अरब डॉलर की वैल्युएशन हासिल होने की उम्मीद कर रही है।

 

यह भी पढ़े:  HP Adhesives IPO: शेयर अलॉटमेंट से पहले जानें क्या है GMP, कैसे मिल रहे संकेत
close