PolicyBazaar IPO: आज खुला इश्यू, प्राइस बैंड 940-980 रुपए, जानिए क्या आपको निवेश करना चाहिए

PolicyBazaar के IPO का प्राइस बैंड 940-980 रुपए तय हुआ है। कंपनी इससे 5709.72 करोड़ रुपए जुटाने की तैयारी में है

PolicyBazaar IPO: पॉलिसी बाजार और पैसाबाजार डॉटकॉम पर मालिकाना हक रखने वाली PB Fintech का इश्यू आज यानी 1 नवंबर को खुला है। कंपनी का इश्यू 3 नवंबर को बंद होने वाला है।

PolicyBazaar के IPO का प्राइस बैंड 940-980 रुपए तय हुआ है। कंपनी के इश्यू का एक लॉट 15 शेयरों का है। इसके शेयरों का अलॉटमेंट 10 नवंबर को होगा और इसकी लिस्टिंग 15 नवंबर को हो सकती है।

Policybazaar इस IPO से 5709.72 करोड़ रुपए जुटाने की तैयारी में है। इसमें 3750 करोड़ रुपए का फ्रेश इश्यू है। जबकि 1959.72 करोड़ रुपए के शेयर ऑफर फॉर सेल (OFS) में बेचा जाएगा।

SJS Enterprises IPO: 1 नवंबर को खुलेगा इश्यू, प्राइस बैंड 531-542 रुपए, निवेश से पहले जानिए इसकी खास बातें

फ्रेश इश्यू में से 1500 करोड़ रुपए का इस्तेमाल ब्रांड को मजबूत बनाने पर खर्च किया जाएगा। 375 करोड़ रुपए का इस्तेमाल नए मौकों की तलाश में होगा। 600 करोड़ रुपए का इस्तेमाल स्ट्रैटेजिक इनवेस्टमेंट की फंडिंग में होगी। इसके अलावा 375 करोड़ रुपए का इस्तेमाल भारत के बाहर कारोबार के विस्तार पर किया जाएगा। बाकी बची रकम का इस्तेमाल कंपनी से जुड़े दूसरे कामकाज में किया जाएगा। 

ऑफर फॉर सेल में SVF Python II (Cayman) 1875 करोड़ रुपए का शेयर बेचेगी। वहीं याशीष दहिया 30 करोड़ रुपए के शेयर बेचेंगे। जबकि आलोक बंसल 12.75 करोड़ रुपए और शिखा दहिया 12.50 करोड़ रुपए का शेयर बेचेगी। वहीं राजेंद्र सिंह कुहार 3.50 करोड़ रुपए के शेयर बेचेगी। इसके साथ ही कंपनी के फाउंडर यूनाइटेड ट्रस्ट 2.68 लाख शेयर बेचेगी। इश्यू के अपर प्राइस बैंड के मुताबिक, इसकी वैल्यू 26.22 करोड़ रुपए होगी।

क्या करें निवेशक?

के आर चोकसी के मुताबिक, कंपनी की सबसे अच्छी बात है कि यह बड़े बाजार में काम कर रही है जिसमें अभी काफी मौके हैं। पॉलिसी का बाजार तेजी से बढ़ता जा रहा है। डिजिटल मार्केट प्लेस में कंपनी लीडरशिप पोजीशन में है। कंपनी नए ग्राहकों को लुभाने में कामयाब है जिसका फायदा उसे हो रहा है। फिस्कल ईयर 2021 में 12.65 करोड़ से ज्यादा बार वेबसाइट पर यूजर्स आए। कंपनी में ग्राहकों को अपने साथ बनाए रखने की क्षमता है। इसके साथ ही बीमा कंपनियों और लेंडिंग पार्टनर्स के साथ बेहतर संबंध से भी कंपनी को फायदा हो रहा है।

के आर चोकसी ने इसके साथ ही कंपनी की कुछ चिंताओं के बारे में भी बताया है। उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस संक्रमण के कारण लोगों की नौकरियां गई हैं जिसकी वजह से पॉलिसी खरीदने की उनकी क्षमता कम हुई है। कंपनी को पहले लॉस हो चुक है। इसके साथ ही रेगुलेशंस का नॉन-कंप्लाएंस इसके बिजनेस की सबसे बड़ी दिक्कत है।

केआर चोकसी ने पॉलिसी बाजार के IPO को लॉन्ग टर्म के लिए खरीदने की सलाह दी है।

Sigachi, SJS एंटरप्राइजेज सहित 6 कंपनियों का आ रहा IPO, जानें ग्रे मार्केट में क्या चल रहा है इनका भाव

Trustline Securities के वाइस प्रेसिडेंट राजीव कपूर ने कहा, वैल्यूएशन के लिहाज से लिस्टिंग के बाद अपर प्राइस बैंड के मुताबिक इसका P/E 47.6 है जो प्रतिद्वंदी कंपनियों के मुकाबले ज्यादा है। कंपनी के बिजनेस मॉडल और वैल्यूएशन को देखते हुए Trustline Securities ने इस इश्यू को न्यूट्रल रेटिंग दी है।

कंपनी ने 5.5 अरब डॉलर-6 अरब डॉलर के बीच वैल्यूएशन का टारगेट रखा है। Policybazaar में कई बड़े निवेशकों का पैसा लगा है। इसमें सॉफ्टबैंक, टेमासेक, इंफोएज, टाइगर ग्लोबल और प्रेमजी इनवेस्ट का इनवेस्टमेंट है।

पॉलिसीबाजार अपने ग्राहकों को ऑटो, हेल्थ, लाइफ इंश्योरेंस और जनरल इंश्योरेंस पॉलिसी का आकलन करने की सुविधा देती है। पॉलसी बाजार की साइट हर साल 10 करोड़ बिजिटर्स आते हैं और कंपनी हर महीने 4 लाख पॉलिसी बेचती है।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

यह भी पढ़े:  Latent View Analytics के शेयर अपने इश्यू प्राइस से 169% ऊपर 530 रुपए पर लिस्ट हुए
close