What Is SEO In Hindi – SEO Kya Hai – SEO क्या है ? पूरी जानकारी

SEO का मतलब होता है Search Engine Optimization. SEO का काम होता है website को search engines के लिए optimize करना. SEO एक technique है, जिससे हम ये सब कर सकते हैं.

  • एक website को design and develop करना जिससे उसका search engine results में अच्छा rank हो.
  • Search engines पे Website के traffic की quality और volume को improve करना.
  • Algorithms कैसे काम करते हैं और log क्या search कर सकते हैं ये समझना और इस base पे marketing करना.

What Is SEO Kya Hai In Hindi

SEO search engine marketing का एक subset है. SEO से हमारा मतलब SEO copyrighting भी है, क्योंकि maximum techniques search engines पे sites को promote करने के लिए text का ही use करती हैं.

अगर आप basic SEO सीखना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ये समझना जरुरी है की search engines work कैसे करता हैं.

How Search Engine Works?

Search engines बहुत सारी activities perform करते हैं जिससे वे search results deliver कर पाते हैं.

Crawling – एक website पे जितने भी pages हैं उन्हें fetch (Collect) करने को “crawling” कहा जाता है. ये काम एक software करता है, जिसे crawler या spider कहते हैं (Googlebot, in case of Google).

Indexing – सभी webpages का एक index बनाने और उसे database के रूप में store करने की Process को “Indexing” कहते हैं. Indexing का main काम होता है, ऐसे words and expressions use करना जिससे page best way में describe किया जा सके.

Processing – जब एक search request आती है, और search engine उसे अपने database में खोजता है, इस process को “Processing” कहते हैं.

Relevancy Calculate करना – हर एक page में एक string होती है जो की Calculate करती है वो page कितनी बार search किया गया है, और उसकी relevancy search engines को display करता है.

Results display करना – ये Search engine activities का last step है. इसमें search किये गए keywords का best result दिखाया जाता है. Basically, ये results को browser में display करने की process है.

Search engines जैसे की Google और Yahoo! अपने relevancy algorithm को every month में बहुत बार change करते हैं. जब आप अपनी rankings में change देखते हैं, तो ये algorithmic shift के कारन ही है, जो की आपके control से बाहर है.

Normally सभी search engines का basic principal same ही होता है,but थोड़ा सा फर्क सिर्फ इनकी relevancy algorithms में होता है जिससे results में बहुत बड़ा change होता है.

What is SEO Copywriting?

SEO Copywriting एक technique है जिससे website के contents को इस तरह convert किया जाता है की users उसे easily read कर सकें. इससे search engines को pages की ranking में भी help मिलती है.

Text के अलावा, SEO Copywriting site पे available दूसरे contents जैसे की Title, Description, Keywords tags, headings, and alternative text को भी view able (Read करने लायक ) बनती है.

SEO copyrighting का main aim होता है की search engines perfect results ही show करें.जिनमे genuine content pages हो और useless pages, जिन्हें “doorway pages” कहते हैं,जिन्हें सिर्फ high rankings achieve करने के लिए बनाया जाता है, उन्हें avoid किया जा सके.

What is Search Engine Rank?

जब भी आप search engine पे कोई भी word search करते हैं तो आपको हज़ारो results मिलते हैं. Search किये गए words की tendency के according ranking की जाती है. जो sites आपके result के top में हैं वो ही उनका rank show करती हैं, यानि सबसे पहली site का रैंक 1 होता है और जैसे जैसे आप आगे बढ़ेंगे, ranking बढ़ती जायेगी.

SEO एक process है जिससे websites को designing and developing की help से search engine results में high rank मिल सकता है.

What is On-Site,On-Page and Off-page SEO?

Normally Search Engine optimization के 3 तरीके हैं :

On-Site SEO – इसमें आपके blog की crawling and indexing part आती है,आप का site SEO spider को किस type से दिखेगा and अपने website का internal SEO structure आप on-site SEO से कर सकते है.

On-Page SEO – इनमे अच्छे content, अच्छे keywords use करना, keywords को सही जगह use करने, हर page को सही तरीके से title देना, etc. होता है.

Off-Page SEO – इनमे link building, link popularity increase करना, open directories submit करना, search engines, link exchange, etc. होता है.

Search Engine Optimization Techniques

SEO Techniques की दो categories हैं :

White Hat SEO – Techniques जिन्हें search engines good design मानते हैं और approve करते हैं.

Black Hat SEO – Techniques जिन्हें search engines approve नहीं करते और effect भी कम करता हैं. इन्हें spamdexing भी कहते हैं.

White Hat SEO

एक SEO tactic को White Hat SEO माना जाता है अगर उसमे ये features हैं :

  • ये search engine की guidelines को follow करता है.
  • इसमें किसी भी प्रकार का deception (फाल्ट ) नहीं है.
  • ये search engine indexes में involved है, और user के लिए helpful है.
  • ये ensure करता है की webpage के contents users के लिए ही हैं, न की केवल search engines के लिए.
  • ये Web pages की अच्छी quality को ensure करता है.
  • ये web pages में useful contents की availability को ensure करता है.

हमेशा एक White Hat SEO tactic ही follow करें और अपनी site के visitors को बेवकूफ बनाने की कोशिश ना करें. Honest रहे और आप जरूर success पाएंगे.

Black Hat or Spamdexing

एक SEO tactic को Black Hat or Spamdexing माना जाता है अगर उसमे ये features हैं :

  • ऐसा rank improvements पाने की कोशिश करना जो की search engines के द्वारा approve नहीं किये गए हैं.
  • Users को एक page से दूसरे page पे redirect करना जो की search engines के लिए human friendly नहीं है.
  • Users को ऐसे page पे Redirect करना जो की different है us page से जिसे search engine ने rank किया था.किसी page का एक version search engine spiders/bots को serve करना और दूसरा version human visitors को. इसे Cloaking Search Engine Optimization tactic कहा जाता है.
  • Page के background color में hidden या invisible text use करना, tiny font size use करना और उन्हें HTML code के अंदर छुपाना.
  • कई बार meta tags में एक ही keyword को repeat करना, और ऐसे keywords use करना जो की website contents से related नहीं हैं. इसे meta tag stuffing कहा जाता है.
  • Page के keyword count, variety, and density को गलत तरीके से बढ़ाने की कोशिश करना. इसे keyword stuffing कहते हैं.
  • Low-quality web pages बानाना जिनमे बहुत कम contents हैं और same keywords repeat किये गए हैं. In pages को Doorway or Gateway Pages कहा जाता है.
  • Mirror websites की help से multiple websites को host करना – जिसमे similar content हैं but different URLs use किये गए हैं.
  • किसी Popular site की rough copy बना कर उसे अपनी site के रूप में use करना. इसे page hijacking कहते हैं.

अपनी website का rank improve करने के लिए हमेशा इन Black Hat tactics से बचें. Search engines इतने smart होते हैं की easily आपकी website की property को identify कर लेती हैं, और आपके हाथ कुछ नहीं लगता.


इन्हें भी जरुर पढ़े:

  • Web Hosting क्या है ? पूरी जानकारी
  • Domain Name क्या है ? पूरी जानकारी
  • Programming Language कैसे सीखे ? 5 Easy Ways
  • WordPress क्या है ? A Guide For Beginners
  • अपने Blog की Traffic कैसे बढ़ाये पूरी जानकारी

ये थी (SEO)Search Engine Optimization in Hindi से related कुछ information और उसके types.SEO से related आपका कोई question हो तो comment के through पूछ सकते है.And Friend next article में हम On-Page,One-site and Off-page SEO के बारे में जानेंगे.

यह भी पढ़े:  Github क्या है ? Github के बारे में पूरी जानकारी - [In Hindi]
close